नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर और विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 97541 60816 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , *15 अगस्त को ट्वीट डिलीट कर अमित जोगी ने मांगी माफ़ी, कहा;ब्यक्तिगत जीवन की फोटो पोस्ट करना थी मेरी भूल।एक ही रात में लाखों की शराब गटकने का दावा कर DOPT एवं PMO में शिकायत करने का अमित जोगी ने ट्वीटर में किया था उल्लेख* – पर्दाफाश

पर्दाफाश

Latest Online Breaking News

*15 अगस्त को ट्वीट डिलीट कर अमित जोगी ने मांगी माफ़ी, कहा;ब्यक्तिगत जीवन की फोटो पोस्ट करना थी मेरी भूल।एक ही रात में लाखों की शराब गटकने का दावा कर DOPT एवं PMO में शिकायत करने का अमित जोगी ने ट्वीटर में किया था उल्लेख*

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

*15 अगस्त के पूर्व जनता कांग्रेस जे नेता अमित जोगी के ट्वीट से मचा बवाल*

*गंगाजल हथेली में लेकर पूर्ण शराबबंदी के लिए कांग्रेस सरकार के दावों पर उठाया था सवाल*

*अमित जोगी ने सरकारी भवन में आईपीएस एवं आईएएस अधिकारियों के शराब पार्टी का फ़ोटो एवं कार्यवाही की अपील का पोस्ट किया था ट्वीट*

*एक ही रात में लाखों की शराब गटकने का दावा कर DOPT एवं PMO में शिकायत करने का अमित जोगी ने ट्वीटर में किया था उल्लेख*

*15 अगस्त को ट्वीट डिलीट कर अमित जोगी ने मांगी माफ़ी, कहा;ब्यक्तिगत जीवन की फोटो पोस्ट करना थी मेरी भूल*

*रायपुर एसएसपी एवं जीएसटी अधिकारियों द्वारा शासकीय भवन में शराब पार्टी मनाने का अमित जोगी ने किया था दावा*

*आख़िर क्या था वह ट्वीट जानने के लिए पढ़िए पूरी ख़बर…*

रायपुर/छत्तीसगढ़।

कहते है कि पूत के पांव पालने में ही दिख जाते है यह कहावत इन दिनों छत्तीसगढ़ में कद्दावर आईएसएस एवं आईपीएस ऑफिसरों के शराब पार्टी की फ़ोटो छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री स्व अजीत प्रमोद जोगी के पुत्र एवं जनता कांग्रेस जे के सुप्रीमो अमित जोगी के द्वारा अपने ट्वीटर हेंडल *Amit Ajit Jogi on Twitter में गंगाजल को हथेली में लेकर@INCChhatisgarh नेताओ ने प्रदेश के….* 15 अगस्त की रात्रि जब पूरा देश स्वतंत्रता दिवस की तैयारियों में लीन था ऐसे वक़्त में जनता कांग्रेस जे नेता अमित जोगी का एक ट्वीट अचानक वायरल होने लगा जिसमे रायपुर के वरिष्ठ आईपीएस एवं आईएस अधिकारियों द्वारा सरकारी भवन में शराब पार्टी किए जाने के दांवों के साथ वायरल होने लगा। जिसमें जनता कांग्रेस जे नेता पूर्व विधायक अमित जोगी के द्वारा लिखा गया था कि “गंगाजल कक हथेली में लेकर कांग्रेस नेताओं ने प्रदेश के मैदानी इलाकों में पूर्ण शराबबंदी लागू करने का वादा किया था।मेरे पास ताजा तश्वीरें आई है जिसमे स्वतंत्रता दिवस के पूर्व संध्या पर सरकार के वरिष्ठ IAS/IPS अधिकारी खुल्लेआम शराब पी रहे है।GST सचिव श्रीमति रानू साहू रायपुर SSP श्री अजय यादव और उनके साथी अधिकारी मित्र खुलेआम शराब-वोदका, बीर,विस्की इत्यादि-का शासकीय भवन में सेवन करके अय्यासी कर रहे है।ये बेहद आपत्तिजनक है।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री को इन अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगना चाहिए और उनके विरुद्ध दंडनात्मक कार्यवाही करनी चाहिए।ऐसे अधिकारियों को बर्खास्त करना चाहिए।जिन अधिकारियों की मासिक तनखा रु50000 है,वे रु100.000 की शराब कैसे पी सकते है, इसकी पृथक से शिकायत मैं DoPT और प्रधानमंत्री को करूँगा।छत्तीसगढ़ की जनता की लूट मैं कदापि बर्दास्त नही करूँगा!ढाई साल का समय है सुधर…”

अमित जोगी इतने में ही नही रुके इनके द्वारा लगातार चार और ट्वीट किए गए।जैसे ही उनके द्वारा उक्त ट्वीट सोशल मीडिया में वायरल की गई,बवाल मचना तय था।छत्तीसगढ़ के आईएएस, आईपीएस एवं प्रशासनिक अमलो में भूचाल आ गया।जब एक तरफ प्रदेश के मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ में चार नए जिलों एवं 18 नए तहसील सहित विभिन्न सौगातों की घोषणा रायपुर के परेड मैदान से कर रहे थे जहाँ प्रदेश में चारो तरफ खुशी का माहौल था वही नशाखोरी करते सोशल मिडीया में आईएएस एवं आईपीएस की तस्वीरे वायरल हो रही थी।जिसको लेकर भूचाल मचा हुआ था।

अचानक अमित जोगी ने अपने ट्वीटर हैंडल से उक्त पोस्ट डिलीट करने की जानकारी सार्वजनिक की।आखिर ऐसी क्या वजह थी की पोस्ट डिलीट करने की जानकारी वायरल की गई।आखिर ऐसा क्या हुआ कि एक राजनैतिक दल के सुप्रीमो अमित जोगी को पोस्ट डिलीट करना पड़ा।और अंततः  नए ट्वीट से माफी मांगनी पड़ी,यह तो वक़्त ही बताएगा।फ़िलहाल अमित जोगी के इस सनसनीखेज ट्वीटर पोस्ट ने न सिर्फ छत्तीसगढ़ बल्कि पूरे देश के राजनीति में भूचाल ला दिया है।

*🎯🎯🎯नोट-उक्त फोटो की सत्यता की पुष्टि हमारे द्वारा नही की जा रही है। उक्त फ़ोटो अमित जोगी के ट्विटर हैंडल से पोस्ट की गई थी उसका स्क्रीन शॉट है,*

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे.

Donate Now

लाइव कैलेंडर

April 2024
M T W T F S S
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930