नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर और विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 97541 60816 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , *⭕आरएसएस के सेवाभारती द्वारा संचालित शिशु मंदिर की लुटिया डुबाने में लगे स्थानीय प्रबन्धक एवँ सेठ⭕अगर मिलेगी दोबारा शिकायत तो होगी स्कूल पर कठोर कार्यवाही-बीईओ भारद्वाज ने दिया भरोसा* * – पर्दाफाश

पर्दाफाश

Latest Online Breaking News

*⭕आरएसएस के सेवाभारती द्वारा संचालित शिशु मंदिर की लुटिया डुबाने में लगे स्थानीय प्रबन्धक एवँ सेठ⭕अगर मिलेगी दोबारा शिकायत तो होगी स्कूल पर कठोर कार्यवाही-बीईओ भारद्वाज ने दिया भरोसा* *

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

*⭕खरसिया शिशु मंदिर प्रबंधन ने मानी गलती-मांगी माफी*

*⭕बीइओ भारद्वाज ने बच्चों एवँ अभिभावकों को मानसिक प्रताड़ना पर शिशु मंदिर प्रबंधन को लगाई फटकार*

*⭕डीईओ एवँ एसडीएम खरसिया ने अवैधानिक फीस मामले में दिया था जाँच एवँ कार्यवाही के आदेश*

*⭕लिखित माफीनामे एवँ दोबारा गलती न करने के शर्त पर बीईओ एवँ अभिभावकों ने दिया स्कूल प्रबंधन को मौका*

*⭕अगर मिलेगी दोबारा शिकायत तो होगी स्कूल पर कठोर कार्यवाही-बीईओ भारद्वाज ने दिया भरोसा*
*⭕आरएसएस के सेवाभारती द्वारा संचालित शिशु मंदिर की लुटिया डुबाने में लगे स्थानीय प्रबन्धक एवँ सेठ*

*⭕खरसिया / रायगढ़ /*

संघ के सेवा भारती द्वारा संचालित विद्यालय सरस्वती शिशु मंदिर जो सेवा भाव के अंतर्गत संचालित है जिनका मूल उद्देश्य ही सेवा करना या सेवा देने का ही है,ऐसे संस्थानों की भी कुछ लोग लुटिया डुबाने में लगे हुए हैं।सरस्वती शिशु मंदिर जैसे संस्थाओं को भी कुछ सेठ व्यापार का माध्यम बनाने पर तुले हुए हैं,सेवा तो बहुत दूर की बात है ये उल्टे लोगों को लूटने का ही कार्य करने लग गए है।जिस पर समय रहते लगाम लगना बहुत आवश्यक हो गया है।

⭕खरसिया के सरस्वती शिशु मंदिर विद्यायल में तथाकथित प्रबंधक व्यवस्थापक के तुगलकी फरमान के कारणों से विगत दिनों और आज तक बहुत से अभिभावकों व विद्यार्थियों को बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ा है,2 वर्ष तक कोरोनाकाल में छत्तीसगढ़ राज्य सहित पूरे देश की स्थिति चरमरा गई है पढ़ाई और ऑनलाइन क्लास के नाम पर सिर्फ कोरम पुरा करने वाले निजी विद्यालयों ने स्कूल फीस के नाम से मोटी रकम इन दो वर्षों में बिना कुछ पढ़ाई करवाए ही अभिभावको से वसूले है,सभी ने अपनी स्थिति के अनुसार शुल्क जमा भी किये लगातार दो वर्ष तक प्रताड़ना के उपरांत भी।
अब नए सत्र में इन विद्यालयों द्वारा पुराने शुल्क के साथ नए एडमिशन व रिएडमिशन के नाम पर 3-3 माह की अग्रिम फीस ली जा रही है जिससे अब अभिभावको के सब्र का बांध टूट गया है।

⭕सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल के इस कृत्य की शिकायत *सामाजिक कार्यकर्ता व पत्रकार आरती वैष्णव* द्वारा लिखित में अनुविभागीय अधिकारी खरसिया को विकाशखण्ड शिक्षा अधिकारी जिला शिक्षा अधिकारी सहित कलेक्टर तक को की गई है जिस पर आज 3-8-2021 को विकाशकण्ड शिक्षा अधिकारी ने सरस्वती शिशु मंदिर के विद्यालय प्रबंधन को कार्यालय बुलाकर जमकर फटकार लगाते हुए बिना कही से शासकीय अप्रूवल के अवैधानिक तरीके से 3-3 माह के फीस की एकमुश्त वसूली करने पर तत्काल रोक लगाते हुए शासकीय नियमो को पालन करने न करने पर जमकर फटकार लगाया गया,वही कोरोनाकाल के दौरान बच्चो के बचे हुए शुल्क को क़िस्त में सहयोग के साथ लेने की बात कही,आरती वैष्णव के शिकायत में लिखे बच्चो को फीस के लिए दबाव बनाने की बात पर भी कड़े तेवर से कहा गया बच्चो को किसी भी प्रकार का दबाव बनाना कानूनन गलत है उन्हें ह्रास नही करने को कहा।

⭕प्रबंधन की ओर से गए प्राचार्य सहित तथाकथित अध्यक्ष को ये सूचना देने कहा कि अब एक साथ कि अग्रिम फीस नही ली जाएगी लिखित में संस्था की ओर से गए प्राचार्य व प्रधानपाठक से माफीनामा के साथ शुल्क को लेकर 3 बिंदुओं पर लिखित सहमति और लिखित आश्वासन शिकायतकर्ता और इस कार्यालय को देने कहा प्रबंधन द्वारा लिखित में आश्वासन दिया गया 3 माह की अग्रिम फीस नही अब हर महीने की ही फीस ली जायेगी, कोरोनाकाल के बचे हुए शुल्क को 3 किस्तों में देने की बात लिखित में ली गई तत्काल में प्रबंधन द्वारा दिये गए लिखित आश्वासन गलती स्वीकार करने शिकायतकर्ता आरती वैष्णव की बातों का समर्थन किया गया उस आधार पर विकाशकण्ड शिक्षा अधिकारी द्वारा दिये गए आश्वसन के आधार पर कार्यवाही स्थगित कराकर शासन प्रशासन के गाइडलाइन पर चलकर अभिभावको विद्यार्थियों को सहयोग करने कहा अन्यथा कार्यवाही के लिए तैयार रहें इस कड़े आदेश पर व्यवस्था में तत्काल आज से ही सुधार लाने कहा गया।

⭕स्कूल प्रबंधन के आश्वासन और BEO आश्वसन पश्चात पूरे मामले की शिकायत को सुधार होते तक स्थगित किया गया तत्काल आदेश से हिटलरशाही फरमान को निरस्त करने BEO ए के भारद्वाज ने आदेश दिया।व्यवस्थाओ में अनियमितता और अव्यवस्था होने पर प्रबंधन व विद्यालय पर कड़ी कार्यवाही की बात विकाशकण्ड शिक्षा अधिकारी ने कही है।

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे.

Donate Now

लाइव कैलेंडर

May 2024
M T W T F S S
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
2728293031