नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर और विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 97541 60816 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , *भारत सरकार में रेल मंत्री बनाये गए पूर्व IAS अधिकारी उड़ीसा के राज्य सभा सांसद,। जाने कौन है अश्विनी वैष्णव,?छत्तीसगढ़ वैष्णव समाज मे हर्ष व्याप्त-वरिष्ठ पत्रकार व समाजसेवी,अधिवक्ता भूपेन्द्र किशोर ने दिया बधाई* – पर्दाफाश

पर्दाफाश

Latest Online Breaking News

*भारत सरकार में रेल मंत्री बनाये गए पूर्व IAS अधिकारी उड़ीसा के राज्य सभा सांसद,। जाने कौन है अश्विनी वैष्णव,?छत्तीसगढ़ वैष्णव समाज मे हर्ष व्याप्त-वरिष्ठ पत्रकार व समाजसेवी,अधिवक्ता भूपेन्द्र किशोर ने दिया बधाई*

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

*⭕भारत सरकार में रेल मंत्री बनाये गए पूर्व IAS अधिकारी, जाने कौन है अश्विनी वैष्णव,*
*⭕छत्तीसगढ़ वैष्णव समाज मे हर्ष व्याप्त*

नईदिल्ली (ब्यूरो)।

नये मंत्रियों के शपथ लेने के बाद अब उनके बीच विभागों के बंटवारा किया जा चुका है। देश के सबसे अहम मंत्रालयों में से एक रेल मंत्रालय की जिम्मेदारी पूर्व IAS अधिकारी को दी गई है। अश्विनी वैष्णव को रेल के अलावा आईटी और संचार मंत्रालय का कार्यभार भी सौंपा गया है। श्री वैष्णव ने बुधवार को मंत्री पद की शपथ ली थी। हम आपको बताते हैं कि आखिरकार कौन हैं देश के नये रेल मंत्री और उन्हें कई अहम मंत्रालयों की यह जिम्मेदारी क्यों दी गई? यकीनन पूर्व नौकरशाह अश्विनी वैष्णव का नरेंद्र मोदी सरकार में बतौर कैबिनेट मंत्री शामिल होना बहुत सारे लोगों को चौंका गया, हालांकि उन्होंने दो साल पहले भी ओडिशा से भाजपा के टिकट पर राज्यसभा का चुनाव जीत कर सबको सकते में डाल दिया था क्योंकि पार्टी के पास विधायकों की संख्या इतनी नहीं थी कि वह चुनाव जीत सकें।

राजस्थान के जोधपुर में पैदा हुए 51 वर्षीय वैष्णव ओडिशा कैडर के भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के अधिकारी रहे हैं। भाजपा में होने के बावजूद उन्होंने राज्यसभा चुनाव में ओडिशा के मुख्यमंत्री और बीजू जनता दल के प्रमुख नवीन पटनायक का समर्थन हासिल कर लिया। बीजद के भीतर कई नेताओं ने इसकी आलोचना की थी। आरोप लगाए गए कि पटनायक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के दबाव में झुक गए और वैष्णव का समर्थन कर दिया।

वैष्णव 28 जून, 2019 को हुए राज्यसभा चुनाव से सिर्फ छह दिन पहले ही भाजपा में शामिल हुए थे। प्रशासनिक सेवा में रहते हुए उन्होंने बालेश्वर और कटक जिलों के कलेक्टर की जिम्मेदारी निभाई। साल 1999 में आए भीषण चक्रवात के समय उन्होंने बतौर नौकरशाह अपने कौशल का परिचय दिया और उनकी सूचना के आधार पर सरकार त्वरित कदम उठा सकी जिससे बहुत सारे लोगों की जान बची।

वैष्णव ने साल 2003 तक ओडिशा में काम किया और फिर तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यालय में उप सचिव नियुक्त हो गए। वाजपेयी जब प्रधानमंत्री पद से हटे तो वैष्णव को उनका सचिव बनाया गया। आईआईटी से पढ़ाई कर चुके वैष्णव ने 2008 में सरकारी नौकरी छोड़ दी और अमेरिका के व्हार्टन विश्वविद्यालय से एमबीए किया। वापस लौटने के बाद उन्होंने कुछ बड़ी कंपनियों में नौकरी की और फिर गुजरात में ऑटो उपकरण की विनिर्माण इकाइयां स्थापित कीं। इसी साल अप्रैल में उन्हें भारतीय प्रेस परिषद का सदस्य नामित किया गया था।

इस मौके पर छत्तीसगढ़ वैष्णव समाज की ओर से उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी जा रही है अश्विनी वैष्णव जी के केंद्रीय मंत्री बनने से छत्तीसगढ़ के वैष्णव समाज मे खुशी की लहर है।वरिष्ठ पत्रकार अधिवक्ता व समाजसेवक भूपेन्द्र किशोर वैष्णव व आरती वैष्णव ने श्री वैष्णव को बधाई और शुभकामनाएं प्रेषित कर उन्हें वैष्णव समाज का गौरव कहा है।अन्य राज्यो सहित छत्तीसगढ़ में श्री वैष्णव के मंत्री बनने पर खुशी की लहर दौड़ रही है।

 

एडिटर आरती वैष्णव

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे.

Donate Now

लाइव कैलेंडर

September 2023
M T W T F S S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
252627282930