नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर और विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 97541 60816 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , *⭕रायगढ़ के तथाकथित समाजसेवी ठेकेदार सुनील अग्रवाल पिता राधेश्याम अग्रवाल उम्र 50 वर्ष के विरुद्ध बलात्कार एवँ जान से मारने की धमकी का नामजद मामला हुआ दर्ज⭕खुद को मंत्रियों एवँ अधिकारियों का खासमखास समझने वाले फर्जी समाज सेवक का असली चेहरा आया अब सामने* – पर्दाफाश

पर्दाफाश

Latest Online Breaking News

*⭕रायगढ़ के तथाकथित समाजसेवी ठेकेदार सुनील अग्रवाल पिता राधेश्याम अग्रवाल उम्र 50 वर्ष के विरुद्ध बलात्कार एवँ जान से मारने की धमकी का नामजद मामला हुआ दर्ज⭕खुद को मंत्रियों एवँ अधिकारियों का खासमखास समझने वाले फर्जी समाज सेवक का असली चेहरा आया अब सामने*

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

*⭕रायगढ़ के तथाकथित समाजसेवी ठेकेदार सुनील अग्रवाल के विरुद्ध बलात्कार एवँ जान से मारने की धमकी का मामला हुआ दर्ज*

*⭕खुद को मंत्रियों एवँ अधिकारियों का खासमखास समझने वाले फर्जी समाज सेवक का असली चेहरा आया सामने*

*⭕रायपुर/छत्तीसगढ़⭕*
छत्तीसगढ़ के एक बड़े सड़क ठेकेदारों में सुमार रायगढ़ के सुनील अग्रवाल के खिलाफ दुष्कर्म और जान से मारने की धमकी देने  का सनसनीखेज मामला सामने आया हैं। मामला सामने आते ही रायपुर से लेकर रायगढ़ तक हलचल मच गई है। मामले की गंभीरता को देख रीवा पुलिस ने आरोपी ठेकेदार के खिलाफ जरूर अपराध दर्ज कर लिया हैं,लेकिन घटना छत्तीसगढ़ रायपुर होने के कारण आगे की कार्रवाई के लिए रायपुर पुलिस को प्रकरण ट्रांसफर कर दिया गया हैं। फ़िलहाल अब पुलिस के एक्शन का कोई स्टेप सामने नहीं आया है,मगर जिस तरह से बेहद हाईप्रोफाइल इस मामले में सूबे की नजर बनी हुई है,उसको देखते हुए पुलिस बेहद सधे हुए अंदाज में तफ्तीश में जुट गई हैं।

,,क्या है आरोप,,
पीड़िता ने आरोप लगाया है कि अप्रैल 2020 में नौकरी देने के बहाने चाय में नशीली चीज मिलाकर पीड़िता का बलात्कार किया गया। इसके बाद वह कई बार बलात्कार का शिकार हुई। इसी बीच रसूखदार ठेकेदार द्वारा अपनी पावर का इस्तेमाल करते हुए जान से मारने की धमकी भी दी गई। जिससे डरकर वह अपने घर मध्य प्रदेश चली गई। जहां उसने इस घटना की रिपोर्ट लिखाई।
21 वर्षीय पीड़िता ने अपनी शिकायत में बताया कि वह रीवा मध्य प्रदेश की रहने वाली है। उसके पिता रायपुर में काम करते थे। पढ़ाई पूरी होने के बाद वह भी रायपुर में नौकरी करने लगी। अप्रैल 2020 में जिस कंपनी में पीड़िता काम करती थी। वहां उसकी मुलाकात आरोपी सुनील अग्रवाल (उम्र 50 वर्ष) पिता राधेश्याम अग्रवाल निवासी ऐश्वर्या रेजिडेंस कॉलोनी, रायपुर से हुई। मुलाकात के दौरान आरोपी सुनील अग्रवाल ने उसे दुगनी सैलरी पर अपने यहां काम करने का ऑफर दिया।
पीड़ित युवती ने बताया कि एक-दो दिन बाद उसने दोबारा फोन किया। डबल सैलरी के लालच में आकर वह सुनील अग्रवाल के पास गई। जहां एक कमरे में सुनील अग्रवाल ने चाय में नशीली चीज पिलाकर बेहोश कर दिया गया।फिर बेहोशी की हालत में उसके साथ बलात्कार किया। इसके बाद लॉक डाउन के बाद नौकरी देने की बात कहकर कई बार उसे बुलाकर उसके साथ उसकी मर्जी के बिना शारीरिक संबंध बनाए।
2 अप्रैल 2021 को उसने पीड़िता को नौकरी के लिए फिर से अपने पास बुलाया और बलात्कार की कोशिश की। जिसके बाद किसी तरीके से वह उसके चुंगल से निकल कर भाग गई। पीड़िता ने बताया कि सुनील अग्रवाल ने मोबाइल पर उसे घटना का जिक्र करने पर जान से मारने की धमकी भी दी।
जून में किसी तरह वह अपने आप को बचाकर अपने गृह ग्राम रीवा मध्य प्रदेश गई। जहां उसने अपने परिजनों को इस घटना की जानकारी दी। जिसके बाद रीवा महिला थाने में आरोपी सुनील अग्रवाल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई।

आरोपी ठेकेदार सुनील कुमार अग्रवाल लेन्ध्रा

महिला थाना प्रभारी प्रियंका पाठक ने बताया कि इस मामले में ने पीड़िता की शिकायत पर धारा 376 और 506 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। घटना क्षेत्र रायपुर जिले की होने के कारण केस को संबंधित सिविल लाइन थाना, रायपुर ट्रांसफर किया गया है।विश्वसनीय सूत्रों की माने तो पीड़िता को मामला वापस लेने के लिए भारी मानसिक दबाव बनाए जाने की  खबर भी मिल रही है।

 

क्रमशः

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे.

Donate Now

लाइव कैलेंडर

February 2024
M T W T F S S
 1234
567891011
12131415161718
19202122232425
26272829