नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर और विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 97541 60816 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , *📕न्यायधानी बिलासपुर में पत्रकार भी नही है सुरक्षित – असमाजिक तत्वों ने पत्रकार पर किया हमला , 5 हजार नगद,प्रेस कार्ड सहित कैमरा भी लूटा आरोपी फरार* – पर्दाफाश

पर्दाफाश

Latest Online Breaking News

*📕न्यायधानी बिलासपुर में पत्रकार भी नही है सुरक्षित – असमाजिक तत्वों ने पत्रकार पर किया हमला , 5 हजार नगद,प्रेस कार्ड सहित कैमरा भी लूटा आरोपी फरार*

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

*📕न्यायधानी बिलासपुर में पत्रकार भी नही है सुरक्षित – असमाजिक तत्वों ने पत्रकार पर किया हमला , 5 हजार नगद,प्रेस कार्ड सहित कैमरा भी लूटा आरोपी फरार*

*📕सरकंडा थाना क्षेत्र का मामला- अज्ञात आरोपियों के विरुध्द लूट का मामला दर्ज*

बिलासपुर-: लोकस्वर समाचार पत्र के फोटो ग्राफर पत्रकार पवन सोनी के ऊपर कल रात्रि लगभग 10:30 बजे 3 अज्ञात हमलावरों ने उस वक्त हमला बोल दिया जब पत्रकार अपना काम निपटा के कोनी स्थित प्रेस क्लब कर्मचारी संघ कालोनी जा रहा था। कि अचानक 3 युवक मुह में कपड़ा बांध के अचानक पत्रकार के बाइक को ओव्हरटेक करते हुए इंदिरा कृषि विश्वविद्यालय नर्सरी के पास अचानक पत्रकार पवन सोनी के वाहन को गिराकर पत्रकार पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया। तीनो आरोपियों ने पवन सोनी के साथ न सिर्फ मारपीट किया बल्कि उक्त युवकों ने पत्रकार के पर्स में रखे 5 हजार नगद,2 एटीएम कार्ड,4 नग पेनड्राईव एवं प्रेस कार्ड को लूट लिया। पवन सोनी ने अपने शिक़ायत में बताया कि उक्त युवक में से एक युवक काले रंग का गमछा एवं लाल शर्ट पहना हुआ था। सरकंडा थाने में मामले की FIR दर्ज कराई गई है। अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध धारा 394 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया गया है। वहीं पुलिस आरोपियों के तलाश में जुट गई है।

*📕न्यायधानी में पत्रकार पर हमले से पत्रकारोँ की सुरक्षा को लेकर उठे सवाल…..❓❓*
जहां पूरे प्रदेश में पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने एवं पत्रकारोँ के हित मे अनेको कार्य योजना बनाने के दावे किए जाते हैं। ऐसे में न्यायधानी में लोकस्वर समाचार पत्र के फोटो ग्राफर (पत्रकार ) पवन सोनी के ऊपर अज्ञात हमलावरों के द्वारा की गई मारपीट एवं लूट की वारदात ने फिर से रात्रि में पुलिस के गस्त एवं पत्रकारोँ की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर अनेको सवाल खड़े हो रहे हैं। लगातार कार्य क्षेत्र समाचार संकलन एवं विभिन्न घोटालों को उजागर करने के दौरान भ्रस्टाचारियों एवं माफियाओं के द्वारा पत्रकारोँ के विरुद्ध अनेको षड़यंत्र एवं हमले की घटना को अंजाम देने में पीछे नही हटते हैं। ऐसे में छत्तीसगढ़ के न्यायधानी बिलासपुर में पत्रकार के ऊपर हमला कर लूटपाट करने वाले आरोपी घटना के 15 घण्टो के बाद पुलिस के पकड़ से बाहर है।

*📕न्यायधानी में नही माफियाओं को खाखी का डर – शराब,कबाड़, लूटपाट,सट्टा, जुआ,नशीली दवाओं एवं गांजा तस्कर है सक्रिय*
कहने को तो पुलिस रिकार्ड में अपराध कम बताने में पीछे नही हटती है लेकिन जमीनी हकीकत उसके उलट ही है। इनदिनों बिलासपुर में विभिन्न काले कारनामो एवं वारदातों को अंजाम देने वाले आरोपियों के हौसले इतने बुलन्द है कि वो बेख़ौफ होकर अपने कारोबार को अंजाम दे रहे हैं। कुछ असामाजिक तत्व तो यहां तक दावा करते नजर आतें हैं कि हर थाने में हर अपराध की कीमत तय है। पैसे फेंको तमाशा देखो तभी तो आरोपियों के द्वारा बेख़ौफ़ होकर अपराध को अंजाम दिया जा रहा है।

*📕कांग्रेस विधायक शैलेश पाण्डेय भी बिलासपुर के थानों में अपराधों के रेट लिस्ट तय होने लगा चुके है आरोप*

तारबाहर थाना नए भवन के उद्घाटन समारोह के दौरान बकायदा बिलासपुर विधानसभा कांग्रेस के विधायक शैलेश पांडेय ने बिलासपुर के थानों में अपराधों की रेट लिस्ट लगा देने के सम्बंध में खुलेआम पुलिस के आला अधिकारियों के सामने बयान दिया था। तब सूबे के गृहमंत्री ने जल्द ही कानून व्यवस्था सुधारने के लिये आश्वसन दिया था किंतु उसके बाद भी बिलासपुर में अपराध में कमी आने के बजाय हर तरह के अपराध घटित हो रहें है लेकिन पुलिस के लचर व्यवस्था को लेकर आम नागरिकों में नाराजगी है। वहीं आरोपियों के हौसले बुलंद है वहीं बिलासपुर पुलिस अपने मुह मियां मिट्ठू बन खुद के तारीफों के कशीदे गढ़ने में लगी है।
लेकिन खुलेआम पत्रकार पर हुए हमले एवं लूटपाट की घटना ने बिलासपुर सरकंडा पुलिस के दावों की पोल खोल के रख दिया है।

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे.

Donate Now

लाइव कैलेंडर

July 2024
M T W T F S S
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031