नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर और विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 97541 60816 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , दैनिक भास्कर के सिटी इंचार्ज संजीव महाजन कोठी हड़पने,धोखाधड़ी, अपहरण, सहित कई आरोपो मे विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार।  – पर्दाफाश

पर्दाफाश

Latest Online Breaking News

दैनिक भास्कर के सिटी इंचार्ज संजीव महाजन कोठी हड़पने,धोखाधड़ी, अपहरण, सहित कई आरोपो मे विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार। 

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

दैनिक भास्कर के सिटी इंचार्ज धोखाधड़ी सहित कई आरोपो मे गिरफ्तार।

चंडीगढ़ से खबर आ रही है कि दैनिक भास्कर चंडीगढ़ के सिटी इंचार्ज संजीव महाजन को चंडीगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। संजीव महाजन के खिलाफ पुलिस ने अपहरण, धोखाधड़ी, कोठी मालिक को धोखा देने सहित कई, 10 विभिन्न धाराएं लगाई हैं। पुलिस उन्हें आज कोर्ट में पेश कर रिमांड हासिल करेगी।

 

जानकारों के मुताबिक महाजन गैरकानूनी कार्यों में लंबे वक्त से शामिल रहे हैं, पर अपनी अखबारी धौंस की वजह से बचते रहे हैं। महाजन को पुलिस सिक्योरिटी भी मिली हुई है। राम रहीम केस की रिपोर्टिंग के दौरान खुद पर हमले की आशंका जताते हुए खुद की हिफाजत के लिए महाजन ने चंडीगढ़ एडमिनिस्ट्रेशन से सिक्योरिटी मांगी थी।

बताते हैं कि महाजन के कथित कारनामों की शिकायत केंद्रीय गृह मंत्रालय दिल्ली को की गई थी। वहां गठित की गई एक जांच टीम ने महाजन व उनके दूसरे साथियों पर लगे आरोपों की गहन जांच पड़ताल की। जांच का यह काम पिछले दो-तीन हफ़्तों से चल रहा था। पिछले दिनों चंडीगढ़ कांग्रेस के नए अध्यक्ष की ताजपोशी कार्यक्रम के दौरान भी इस प्रकरण की अंदरखाने पत्रकारों के बीच काफी चर्चा रही।

दैनिक भास्कर चंडीगढ़ के सिटी इंचार्ज संजीव महाजन को अपहरण, धोखाधड़ी, कोठी मालिक को ड्रग्स देने आदि के विभिन्न मामलों में पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद चंडीगढ़ के मीडिया जगत में हड़कंप मच गया है। 10 विभिन्न धाराओं में गिरफ्तार महाजन से पूछताछ के बाद पुलिस कुछ अन्य मीडियाकर्मियों को भी गिरफ्तार कर सकती है। इसी पूछताछ के लिए पुलिस उन्हें कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लेगी।

महाजन को चंडीगढ़ की सेक्टर 11 थाने की पुलिस ने अरेस्ट किया है। इन मामलों में महाजन के अलावा उनके संपादकीय विभाग के कई सीनियर जूनियर सहयोगियों के नाम शामिल हैं। पूछताछ के लिए उन्हें सेक्टर 31 के थाने भी ले जाया गया। सेक्टर 17 की साइबर क्राइम पुलिस के इंस्पेक्टर देवेंदर सिंह ने महाजन की गिरफ़्तारी की पुष्टि की है। गिरफ़्तारी 1 मार्च की रात करीब 11 बजे हुई। पता चलने पर उनके अनेक शुभचिंतक पत्रकार मिलने के लिए थाने पहुंचे, पर पुलिस ने किसी को मिलने नहीं दिया।
यह भी बताया जा रहा है कि इस मामले में पुलिस ने दैनिक भास्कर के संपादक को भी थाने में बिठा रखा है। कहा जा रहा है कि इस रैकेट में कुछ पुलिस वाले और कई मीडियाकर्मी शामिल हैं। ये मामला आने वाले दिनों में काफी बड़ा रूप ले सकता है।
इस बीच सूचना है कि प्रेस क्लब चंडीगढ़ के लोग एक बैठक करने के बाद संजीव महाजन की गिरफ्तारी के मुद्दे पर चंडीगढ़ के प्रशासक से मिलने पहुंचे लेकिन प्रशासक ने इस प्रकरण में कोई मदद करने या कोई दखल देने से हाथ खड़े कर दिए हैं।
इस प्रकरण पर भड़ास एडिटर यशवंत फेसबुक पर लिखते हैं-
क्या जमाना आ गया है.
दैनिक भास्कर का सिटी इंचार्ज ड्रग तस्करी में अरेस्ट हुआ है… संपादक को थाने में बिठा रखा है… कई पुलिस वाले भी नपेंगे… एक गुमनाम सूचना पर गृह मंत्रालय की गोपनीय जांच में इस प्रकरण का भंडाफोड़ हुआ…
सिटी इंचार्ज को सिक्योरिटी मिली हुई थी…
शर्मनाक है यह सब कुछ. इतने बड़े मीडिया हाउस के मालिक और मैनेजर आंख-कान में तेल डाले बैठे थे क्योंकि उन्हें तो पत्रकारों से ठीकठाक धंधा मिल रहा था…
अब कैसे वे खुद को जस्टीफाई करेंगे… क्या कहेंगे कि हमको पता न था…?

🎯साभार भड़ास 4 मीडिया

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे.

Donate Now

लाइव कैलेंडर

May 2024
M T W T F S S
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
2728293031