⭕कुनकुनी जमीन घोटाला मामले में दर्ज धोखाधड़ी मामले की फाइल हुई ओपन ,35 लोगों के विरुद्ध दर्ज है 420 सहित अन्य मामलों में अपराध…..

*⭕पर्दाफ़ाश न्यूज पड़ताल⭕कुनकुनी जमीन घोटाला मामले दर्ज आपराधिक मामले की खुली फाइल

⭕अपराध क्रमांक 168/17 धारा 420,467,468,471,120 B आईपीसी उक्त मामले की जाँच ए एस आई वर्मा द्वारा की जा रही है। खरसिया में पदस्थ तात्कालिक एसडीएम एस हरीश ( आई ए एस) के द्वारा मामले में आरोपियों के विरुद्ध मामला दर्ज करने आवेदन दिया था 300 एकड़ आदिवासी जमीन घोटाले को लेकर विधानसभा में भी गूंजा था मामला, उक्त मामले में 14 भूमि स्वामियों को दिया गया है बयान हेतु नोटिस

*⭕कुनकुनी जमीन घोटाले में सप्तऋषि उद्योग समेत 35 के खिलाफ नामजद एफआईआर⭕2 वर्ष बाद फिर खुली मामले की फाइल हाई प्रोफाइल लोग जमीन फर्जीवाड़ा में है शामिल

 

रायपुर/रायगढ़ | कुनकुनी आदिवासी जमीन घोटाला के मामले में एसपी,कलेक्टर सहित डीआरएम को अनसूचित जनजाति आयोग की तरफ से…कार्यवाही के निर्देश के बावजूद उक्त मामले की फ़ाइल धूल खाती पड़ी थी।

रायपुर/रायगढ़ | कुनकुनी आदिवासी जमीन घोटाला के मामले में एसपी,कलेक्टर सहित डीआरएम को अनसूचित जनजाति आयोग की तरफ से तलब किये जाने के बाद मामले में पहली एफआईआर दर्ज कर ली गयी है। बेनामी संपत्ति निषेध की अलग अलग धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। इस बहुचर्चित घोटाले नामजद आरोपियों में सप्तऋषि उद्योग,सतीश कुमार गौतम और मनीष बनसैया सहित 35 अन्य लोगों के नाम शामिल है। स्थानीय कार्यकर्ताओं की शिकायत पर कलेक्टर डी. अलरमेलमंगई ने जांच करायी थी।जिसके बाद ही पूरा मामला प्रकाश में आया था। ये पूरा मामला विधानसभा में भी खूब गूंजा था। मामले ने एक किसान की मौत के बाद तूल पकड़ा था।

जब इस मामले को लेकर हाइकोर्ट गए एक किसान की रहस्यमयी हालत में मौत हो गयी थी।

 

उक्त मामले में वर्तमान में सत्ता पक्ष सहित पूर्व सरकार में कद्दावर लोग फर्जीवाड़ा में शामिल थे। विधानसभा में खूब हंगामे के बीच वर्तमान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दोषियों के खिलाफ कार्यवाही का भरोसा दिया था। तो वर्तमान रायगढ़ जिले के प्रभारी मंत्री उमेश पटेल ने आदिवासी कृषक जयलाल राठिया की संदिग्ध मौत सहित 300 एकड़ कुनकुनी आदिवासी जमीन घोटाले पर खूब आवाज उठाया था।

 

अब नई सरकार से उक्त मामले की आरोपियो के विरुद्ध कार्यवाही की आस जगी है। हालांकि मामले के मुख्य याचिकाकर्ता जयलाल राठिया की मौत हो चुकी है। लेकिन एकबार फिर कुनकुनी जमीन घोटाले में 34 लोगों के विरुद्ध दर्ज  धोखाधड़ी के अपराध की फाइल ओपन होने से आदिवासी समाज मे हर्ष का वातावरण है। उन्हें मामले में न्याय की उम्मीद जगी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *