मोदी कैबिनेट में दोबारा मंत्री बने राजनाथ सिंह, जानिए कैसा रहा है उनका राजनीतिक सफर…..

मोदी कैबिनेट में दोबारा मंत्री बने राजनाथ सिंह, जानिए कैसा रहा है उनका राजनीतिक सफर

राजनाथ सिंह केंद्र सरकार में 2014 से गृहमंत्री हैं, वे दो बार बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी रहे, पहले 2005 से 2009 तक और फिर 2013 से 2014 तक पार्टी अध्यक्ष की भूमिका निभाई. उन्हें संसदीय राजनीति का बेजोड़ अनुभव है, वे दो बार राज्यसभा और दो बार लोकसभा के सदस्य रहे.

नई दिल्ली: पुरानी मोदी कैबिेट में गृह मंत्री रहे राजनाथ सिंह को एक बार फिर मोदी कैबिनेट में मंत्री का पद दिया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ के बाद दूसरे नंबर पर राजनाथ सिंह ने शपथ ली. लखनऊ लोकसभा सीट से गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गठबंधन की तरफ से लड़ रहीं सपा प्रत्याशी पूनम सिन्हा को करीब तीन लाख 47 हजार 302 वोटों से शिकस्त दी और संसद पहुंचे.

राजनाथ को कुल छह लाख 33 हजार 26 वोट मिले जबकि उनकी निकटतम प्रतिद्वद्वी पूनम सिन्हा को दो लाख 85 हजार 724 वोट मिले . कांग्रेस प्रत्याशी प्रमोद कृष्णम को महज एक लाख 80 हजार 11 वोटो से संतोष करना पड़ा.

राजनाथ सिंह का व्यक्तिगत जीवन
राजनाथ सिंह का जन्म 10 जुलाई 1951 को वाराणसी के एक छोटे से गांव भाभोरा में हुआ. राजनाथ सिंह के पिता का नाम राम बदन सिंह था. उनके बारे में कहा जाता है कि वे 13 साल की उम्र में ही आरएसएस से जुड़ गए थे. राजनाथ सिंह ने गोरखपुर यूनिवर्सिटी से फिजिक्स में पोस्‍ट ग्रेजुएशन किया. इसके कुछ समय बाद वे मिर्ज़ापुर में फिजिक्स के लेक्चरार बन गए. 1974 में उन्हें भारतीय जनसंघ का सेक्रेटरी बनाया गया.

कम ही लोग जानते हैं कि इमरजेंसी के दौरान राजनाथ सिंह कई महीनों तक जेल में भी रहे. राजनाथ सिंह की पत्नी का नाम सावित्री सिंह है, उनकी तीन संताने हैं जिनमें दो बेटे और बेटी है. उनका एक बेटा पंकज सिंह नोएडा से विधायक है. छोटा बेटा नीरज सिंह भी उनके लिए लखनऊ में प्रचार कर रहा है, उनकी बेटी का नाम अनामिका सिंह है.

राजनाथ सिंह का सियासी सफर
राजनाथ सिंह केंद्र सरकार में 2014 से गृहमंत्री हैं, वे दो बार बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी रहे, पहले 2005 से 2009 तक और फिर 2013 से 2014 तक पार्टी अध्यक्ष की भूमिका निभाई. उन्हें संसदीय राजनीति का बेजोड़ अनुभव है, वे दो बार राज्यसभा और दो बार लोकसभा के सदस्य रहे, 3 बार विधायक और 1 बार एमएलसी रहे.

राजनाथ सिंह 2000 से 2002 तक यूपी के सीएम भी रहे. इसके बाद 2003 से 2008 तक राज्यसभा के सांसद रहे, अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में 2003 से 2004 तक केंद्रीय कृषि मंत्री रहे. 2009 में गाजियाबाद से जबकि 2014 में लखनऊ से सांसद चुने गए.

2014 में राजनाथ सिंह को कुल 5,61,106 वोट मिले थे. उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार रीता बहुगुणा जोशी को 2,72,749 वोटों से हराया था. कांग्रेस उम्मीदवार को महज 2,88,357 वोट ही मिले थे. बता दें कि विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी में शामिल हो चुकीं रीता बहुगुणा जोशी यूपी की योगी सरकार में मंत्री हैं. इस बार बीजेपी ने उन्हें प्रयागराज से उम्मीदवार बनाया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *