शादी का झांसा देकर नाबालिक का किया अपहरण एवं दैहिक शोषण धर्मजयगढ़ पुलिस ने नहीं लिखी एफ आई आर पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची पीड़िता लगाई न्याय की गुहार एडिशनल एसपी अभिषेक वर्मा ने पीड़िता को दिलाया न्याय का भरोसा….

शादी का झांसा देकर नाबालिक का किया अपहरण एवं दैहिक शोषण धर्मजयगढ़ पुलिस ने नहीं लिखी एफ आई आर

पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची पीड़िता लगाई न्याय की गुहार एडिशनल एसपी अभिषेक वर्मा ने पीड़िता को दिलाया न्याय का भरोसा

खरसिया! नाबालिक युवती का अपहरण कर यौन शोषण करने एवं शादी का झांसा देने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है धरमजयगढ़ तहसील के ग्राम खड़गांव के विद्यासागर राठिया के द्वारा क्षेत्र की ही एक नाबालिग युवती को पहले अपने प्रेम जाल में फसाया बाद में उसे शादी का झांसा देकर उसे मंगलसूत्र पहनाया सिंदूर डालकर उसे अपनी पत्नी बनाकर रखने का झांसा देकर अपने साथ बैंगलोर ले गया लगातार युवती के साथ शादी का झांसा देकर दैहिक शोषण करता रहा बाद में युवती को वापस खडगांव लाकर अपने परिजनों की मदद से वापस युवती को उसके गांव भेज दिया जब युवती के परिजन विद्यासागर राठिया से युवती के साथ विवाह करने के लिए निवेदन करने लगे तब विद्यासागर युवती के साथ शादी की बात से इंकार कर दिया उक्त नाबालिक युवती के अपहरण के बाद से ही युवती की मां रिपोर्ट दर्ज कराने धरमजयगढ़ थाने का चक्कर काटती रही जब विद्यासागर के साथ युवति के जाने की जानकारी मिली तब भी युवती की मां अपहरण की रिपोर्ट लिखाने धर्मजयगढ़ थाने पहुंची लेकिन वहां पदस्थ महिला थानेदार के द्वारा युवती की मां की रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई बल्कि उसे बाद में आने की बात कह भगा दिया गया लगातार अपनी नाबालिग युवती के जी करते जब युवती के परिजनों को जानकारी मिली विद्यासागर राठिया नाबालिक युवती को अपने साथ बेंगलुरु एवं यशवंतपुर ले गया था जबरदस्ती उसकी मांग में सिंदूर भरते हुए मंगलसूत्र पहनाकर शादी का झांसा देकर युवती के साथ यौन शोषण करता रहा जब उसने शादी करके रखने से इंकार कर दिया पीड़िता को लेकर थाना पहुंचे एवं थाना प्रभारी से विद्यासागर राठिया के विरुद्ध एवं दैहिक शोषण के तहत मामला दर्ज करने का निवेदन करने लगे लगातार तीन-चार दिनों तक थाने का चक्कर काटने के बाद भी महिला थानेदार के द्वारा अभी चुनाव कार्य में व्यस्त होने एवं बाद में आने का बहाना बनाकर रिपोर्ट लिखने से इंकार करती रही तब लगातार धर्मजयगढ़ थाने के चक्कर काट कर परेशान हो चुकी पीड़िता की मां रायगढ़ पुलिस कप्तान के कार्यालय पहुंची जहां पर एडिशनल एसपी रायगढ़ अभिषेक वर्मा के पास पीड़िता एवं उसकी मां ने अपनी आप बीती बताइ एवं धर्मजयगढ़ महिला थानेदार द्वारा बार बार चक्कर लगाने के बाद भी एफ आई आर नहीं लिखे जाने की बात बताई और न्याय की गुहार लगाई तब मामले की गंभीरता को देखते हुए एडीशनल एसपी रायगढ़ अभिषेक वर्मा के द्वारा तत्काल थानेदार को फोन लगा कर मामले की गंभीरता को देखते हुए एफ आई आर दर्ज करने का निर्देश दिया साथ ही पीडीता को एक आवेदन पुलिस अधीक्षक कार्यालय में भी देने को कहा तब कहीं जाकर पीड़ित एवं उसके परिजनों को न्याय की आस जगी पुलिस कप्तान कार्यालय में मामले की अपराध दर्ज करने की लिखित शिकायत पीड़िता के द्वारा दर्ज कराई गई है अब मामले में धर्मजयगढ़ थानेदार को एफ आई आर दर्ज करने निर्देश के बाद पीड़िता के आवेदन पर एफ आई आर दर्ज होने एवं पिडित को न्याय मिलने की आस जगी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *