हम खेल रहे थे होली, वे झेल रहे थे गोली….पाक का संघर्ष विराम का उलंघन

पाक का संघर्ष विराम का उल्लंघन: हम खेल रहे थे होली, वे झेल रहे थे गोली
पाकिस्तान ने गुरुवार से लेकर शुक्रवार दोपहर तक जम्मू के केरी बट्टल (अखनूर) से लेकर राजौरी-पुंछ तक नियंत्रण रेखा तक भारी गोलाबारी की।…

जम्मू। देशवासी जब होली के रंग में सराबोर थे, तब भारतीय सेना के जवान जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर दुश्मन की गोली झेलते हुए उन्हें मुंहतोड़ जवाब दे रहे थे। पाकिस्तान ने गुरुवार से लेकर शुक्रवार दोपहर तक जम्मू के केरी बट्टल (अखनूर) से लेकर राजौरी-पुंछ तक नियंत्रण रेखा तक भारी गोलाबारी की। इसमें एक जवान शहीद और एक घायल हो गया। भारत की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान को भी भारी नुकसान होने की सूचना है। बताया जा रहा है कि दो अधिकारियों समेत कुछ सैनिक मारे भी गए हैं।

अखनूर के केरी बट्टल इलाके में शहीद भारतीय जवान की पहचान आठ जेकलाई के राइफलमैन 24 वर्षीय यशपाल निवासी, गांव मानतलाई, चनौनी, जिला ऊधमपुर (जम्मू कश्मीर) के रूप में हुई है। यशपाल छह साल पहले 17 मार्च 2013 को सेना में राइफलमैन के रूप में भर्ती हुए थे। वहीं, छह महीने पहले ही उनकी शादी अर्चना के साथ हुई थी।

होली के दिन गुरुवार दोपहर 2:45 बजे पाकिस्तान ने अखनूर के केरी बट्टल के साथ राजौरी के नौशहर सेक्टर के कलाल और देंग इलाके में भी गोले दागे। पाकिस्तान केरी बट्टल को पिछले काफी समय से निशाना बना रहा है। इस गोलाबारी के दौरान भारतीय चौकी के पास मोर्टार फटने से राइफलमैन यशपाल घायल हो गए।

उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उनकी मौत हो गई। यशपाल ने भी पाकिस्तान को कड़ा जवाब देने में मुख्य भूमिका निभाई थी। रात को शांत रहने के बाद शुक्रवार दोपहर को पाकिस्तान ने केरी बट्टल और पुंछ के मेंढर इलाके में गोले दागे। इसमें एक और जवान घायल हो गया।

जम्मू के पीआरओ डिफेंस लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने कहा कि पाकिस्तानी सेना ने सुंदरबनी, नौशहरा और मेंढर में गोलाबारी की है। भारतीय जवान भी इसका कड़ा जवाब दे रहे हैं। पाकिस्तानी सेना ने 2019 में अब तक नियंत्रण रेखा पर 110 से अधिक बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *