पर्दाफाश

Latest Online Breaking News

भाजपा ने मृत लोगों को बनाया पार्टी का स्थायी सदस्य!* ➡️ जिला भाजपा की कार्यकारिणी की सूची में बड़ी चूक, मची खलबली

*भाजपा ने मृत लोगों को बनाया पार्टी का स्थायी सदस्य!*

➡️ जिला भाजपा की कार्यकारिणी की सूची में बड़ी चूक, मची खलबली

*राजनांदगांव।* विभिन्न सरकारी दस्तावेजों में मृत व्यक्तियों के नाम दर्ज होने और फर्जीवाड़ा की शिकायतें आम बात हो चुकी हैं, लेकिन इन सबसे इतर भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष ने कुछ ऐसा कर दिया है कि पार्टी में ही जबर्दस्त खलबली मची हुई है। पार्टी के कार्यकर्ता अब इस सोच में पड़ गए हैं कि क्या हमारी पार्टी में लोगों की कमी हो गई है या फिर काम के लायक लोग नहीं रह गए है, जिसके कारण मृत लोगों को स्थायी आमंत्रित सदस्य बनाना पड़ गया?
दरअसल विगत दिनों घोषित जिला भाजपा की कार्यकारिणी में तीन ऐसे लोगों को भी जगह दी गई है, जो पहले से ही स्वर्ग सिधार चुके हैं। यानि मृत व्यक्तियों को भी पार्टी कार्यकारिणी में स्थायी आमंत्रित सदस्य बनाया गया है। ज्ञात हो कि करीब डेढ़ साल तक लंबी प्रतीक्षा के बाद जिला भाजपा की कार्यकारिणी की घोषणा जिलाध्यक्ष मधुसूदन यादव द्वारा गत चार फरवरी को गई थी, जिसमें छह उपाध्यक्ष, दो महामंत्री सहित विभिन्न पदों पर कुल 23 लोगों को नई जिम्मेदारी सौंपी गई है। गनीमत है कि मुख्य कार्यकारिणी में शामिल किए गए सभी 23 पदाधिकारी जीवित अवस्था में हैं, लेकिन स्थायी आमंत्रित सदस्यों की सूची में तीन ऐसे लोगों को भी शामिल किया गया है, जो पहले ही स्वर्ग सिधार चुके हैं। हैरत की बात है कि मृत लोगों को आखिर किस आधार पर स्थायी आमंत्रित सदस्यों की सूची में शामिल किया गया?
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार स्थायी आमंत्रित सदस्यों की सूची में जिन तीन लोगों को शामिल किया गया है, उनमें गणेश कोटले पांडादाह (खैरागढ़), सुनील जोशी ग्राम दोड़के (अंबागढ़ चौकी) और चंद्र प्रकाश शर्मा निवासी बांधाबाजार (अंबागढ़ चौकी) के नाम हैं। इनमें से सुनील जोशी की मृत्यु जिला भाजपा की सूची जारी होने के ठीक 14 दिन पहले यानि 22 जनवरी को हुई थी, इसके बावजूद पार्टी के जिलाध्यक्ष इन बातों से अनभिज्ञ रहे। बताया गया है कि चंद्र प्रकाश शर्मा गत दिसंबर माह में ही इस दुनिया को अलविदा कह चुके हैं।
पार्टी सूत्रों का कहना है कि जिलाध्यक्ष मधुसूदन यादव द्वारा जिला कार्यकारिणी घोषित करने करीब डेढ़ साल तक गहन विचार-मंथन किया गया। फिर पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, पूर्व मुख्यमंत्री व वर्तमान विधायक डॉ. रमन सिंह के माध्यम से राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की सहमति पर राजनांदगांव जिला भाजपा की कार्यकारिणी की घोषणा की गई, उसमें भी तीन मृत व्यक्तियों को सदस्य के रूप में शामिल किए जाने से साफ झलक रहा है कि सूची तैयार करने में किस कदर लापरवाही बरती गई है। साथ ही राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह और राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नड्डा को भी एक तरह से अंधेरे में रखा गया। पार्टी नेताओं का कहना है कि इतनी महत्वपूर्ण सूची में मृत लोगों को सदस्य बनाया जाना आश्चर्यजनक होने के साथ ही जिलाध्यक्ष की लापरवाही को साबित करता है। बहरहाल आब देखने वाली बात होगी कि इस मामले में पार्टी हाईकमान क्या कदम उठाता है?

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

Advertisement Box 3

लाइव कैलेंडर

June 2021
M T W T F S S
 123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
282930  
error: Content is protected !!