पर्दाफाश

Latest Online Breaking News

खुशखबरी: लॉकडाउन पीरियड में बुक टिकट का मिलेगा 100 फीसदी रिफंड

खुशखबरी: लॉकडाउन पीरियड में बुक टिकट का मिलेगा 100 फीसदी रिफंड

News

 

नई दिल्ली: कोरोनाकाल में लॉकडाउन के दौरान जिन हवाई यात्रियों ने टिकट बुक कराया था उनके लिये राहत की खबर है। 25 मार्च से लेकर 24 मई तक जिन लोगों डोमेस्टिक या इंटरनेशनल यात्रा करने के लिए टिकट बुक किया है ए को ऐसे यात्रियों को बिना कैंसलेशन चार्ज लिये पूरा पैसा यात्रियों को लौटाना होगा।

जिन यात्रियों ने घरेलू या अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा के लिए एजेंटों से टिकट बुक कराया है, उनके लिए भी  रिफंड की व्यवस्था की गई है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने कहा कि एयरलाइन से मिले पूरे रकम को ट्रेवल एजेंट यात्रियों को वापस करें जो टिकट कैंसिलेशन के एवज में एयरलाइंस ने उन्हें वापस किया है। 24 मई के बाद के हवाई यात्रा के लिए कैंसलशन रिफंड सिविल एविएशन रिक्वायरमेंट्स यानी कार के नियमों के तहत किया जाएगा।

वहीं कोरोनाकाल के चलते वित्तीय सकंट से जुझ रहे एयरलाइंस जो यात्रियों को उनके टिकट कैसिलेशन का पैसा वापस नहीं कर पा रहे उनके लिये भी नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने विकल्प दिया है। इस विकल्प के तहत यात्रियों ने खुद से या एजेंट के जरिये जो टिकट बुक किया है उस टिकट कैसिलेशन के एवज में  एयरलाइन यात्रियों को क्रेडिट उपलब्ध कराएगी।  और हवाई यात्री इस क्रेडिट का इस्तेमाल 31 मार्च 2021 तक कर सकेंगे।

यात्री चाहें तो इस क्रेडिट को ट्रेवल एजेंट समेत किसी और व्यक्ति को भी ट्रांसफर कर सकते है। क्रेडिट शेल को फेस वैल्यू का 0.5 फीसदी इंसेंटिव प्रति माह देना होगा। यह इंसेंटिव टिकट कैंसिल माह या 30 जून 2020 तक निर्धारित किया जाएगा। उसके बाद 31 मार्च 2021 तक 0.75 फीसदी इंसेंटिव देने का प्रावधान किया गया है।

अगर क्रेडिट शेल 31 मार्च 2021 तक इस्तेमाल नहीं किया गया तो कैंसलशन रिफंड के रकम को उसी खाते में डाल दिया जाएगा> जिससे एयरलाइन कंपनियों ने टिकट बुकिंग के दौरान बुकिंग रकम प्राप्त किया था। डीजीसीए ने सभी एयरलाइन को सुप्रीम कोर्ट के दिशा निर्देशॆं का पालन करने को कहा है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

Advertisement Box 3

लाइव कैलेंडर

February 2021
M T W T F S S
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
error: Content is protected !!